खेती

टमाटर की खेती की जानकारी

villagedevelopment's picture
टमाटर की खेती

टमाटर विश्व में सबसे ज्यादा प्रयोग होने वाली सब्जी है। इसका पुराना वानस्पतिक नाम लाइकोपोर्सिकान एस्कुलेंटम मिल है। वर्तमान समय में इसे सोलेनम लाइको पोर्सिकान कहते हैं। बहुत से लोग तो ऐसे हैं जो बिना टमाटर के खाना बनाने की कल्पना भी नहीं कर सकते। इसकी उत्पति दक्षिण अमेरिकी ऐन्डीज़ में हुआ। मेक्सिको में इसका भोजन के रूप में प्रयोग आरम्भ हुआ और अमेरिका के स्पेनिस उपनिवेश से होते हुये विश्वभर में फैल गया। Read : टमाटर की खेती की जानकारी about टमाटर की खेती की जानकारी

पहाड़ी पर्यावरण में धान के बीजों का उत्पादन

villagedevelopment's picture
पहाड़ी पर्यावरण में धान के बीजों का उत्पादन

पहाड़ी पर्यावरण में धान के बीजों का उत्पादन

खेत का चुनाव, खेत की तैयारी और बीजों की बुआई

खेत का चुनाव, खेत की तैयारी और बीजों की बुआई

उपयुक्त खेत का चुनाव, उसकी तैयारी और सही बुआई कर पाना.

पहाड़ी पर्यावरण में, मुख्य खेत में बीजों को सीधे ही बोया जाता है.

 

धान के बीजों के उत्पादन के लिए, पर्याप्त रूप से उपजाऊ, चिकनी गीली बलुई मिट्टी, जिसकी पानी सोखने की क्षमता अधिक हो, को प्राथमिकता दी जाती है. खेत, जिसमे पिछले सालों में समान प्रजाति उगाई गई हो, बीजों के उत्पादन के लिए अच्छी मानी जाती है.

bullet1

  Read : पहाड़ी पर्यावरण में धान के बीजों का उत्पादन about पहाड़ी पर्यावरण में धान के बीजों का उत्पादन

करेला की खेती

villagedevelopment's picture
करेला की खेती

करेला के लिए गर्म एवं आद्र जलवायु की आवश्यकता होती है करेला अधिक शीत सहन कर लेता है परन्तु पाले से इसे हानी होती है |
भूमि
इसको बिभिन्न प्रकार की भूमियों में उगाया जा सकता है किन्तु उचित जल धारण क्षमता वाली जीवांश युक्त हलकी दोमट भूमि इसकी सफल खेती के लिए सर्वोत्तम मानी गई है वैसे उदासीन पी.एच. मान वाली भूमि इसकी खेती के लिए अच्छी रहती है नदियों के किनारे वाली भूमि इसकी खेती के लिए उपयुक्त रहती है कुछ अम्लीय भूमि में इसकी खेती की जा सकती है पहली जुताई मिटटी पलटने वाले हल से करें इसके बाद 2-3 बार हैरो या कल्टीवेटर चलाएँ |
प्रजातियाँ:
पूसा 2 मौसमी
Read : करेला की खेती about करेला की खेती

अधिक उपज के लिए गेहूँ इस तरह उगाएं

villagedevelopment's picture
अधिक उपज के लिए गेहूँ इस तरह उगाएं
 
राजीव कुमार
गो0ब0पन्त कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, पन्तनगर,
गेहूँ की उपज लगातार बढ रही है। यह वृध्दि गेहूँ की उन्नत किस्मों तथा वैज्ञानिक विधियों से हो रही है। यह बहुत ही आवश्यक है कि गेहूँ का उत्पादन बढाया जाय जो कि बढती हुई जनसंख्या के लिए आवश्यक है। गेहूँ की खेती पर काफी अनुसंधान हो रहा है और उन्नत किस्मों के लिए खेती की नई विधियां निकाली जा रही है। इसलिए यह बहुत ही आवश्यक है कि प्रत्येक किसान को गेहूँ की खेती की नई जानकारी मिलनी चाहिए जिससे वह गेहूँ की अधिक से अधिक उपज ले सके।
 
Read : अधिक उपज के लिए गेहूँ इस तरह उगाएं about अधिक उपज के लिए गेहूँ इस तरह उगाएं>

वैज्ञानिक तरीकों से करें कपास की खेती

villagedevelopment's picture
वैज्ञानिक तरीकों से करें कपास की खेती

रानीला गांव में कृषि विज्ञान केंद्र की तरफ से कपास ज्ञान दिवस मनाया गया, जिसमें 70 किसानों ने भाग लिया। कार्यक्रम में किसानों को कपास के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां दी।
Read : वैज्ञानिक तरीकों से करें कपास की खेती about वैज्ञानिक तरीकों से करें कपास की खेती

Pages

Subscribe to RSS - खेती